गुजरात में घूमने लायक प्रमुख स्थान

388

तो इस वीडियो में हम बात करेंगे गुजरात के घूमने लायक प्रमुख स्थान के बारे में
तो चलिए जानते है गुजरात की बेहद खूबसूरत घूमने लायक जगहों क बारे में

1- स्टेचू ऑफ़ यूनिटी

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी भारत के प्रथम उप प्रधानमन्त्री तथा प्रथम गृहमन्त्री वल्लभभाई पटेल को समर्पित एक स्मारक है,जो भारत के राज्य गुजरात में स्थित है। गुजरात के तत्कालीन मुख्यमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने 31 अक्टूबर 2013 को सरदार पटेल के जन्मदिवस के मौके पर इस विशालकाय मूर्ति के निर्माण का शिलान्यास किया था। यह स्मारक सरदार सरोवर बांध से 3.2 किमी की दूरी पर साधू बेट नाम के स्थान पर है जो कि नर्मदा नदी पर एक टापू है। यह स्थान भारतीय राज्य गुजरात के भरुच के निकट नर्मदा जिले में स्थित है।

यह विश्व की सबसे ऊँची मूर्ति है, जिसकी लम्बाई 182 मीटर (597 फीट) है। इसके बाद विश्व की दूसरी सबसे ऊँची मूर्ति चीन में स्प्रिंग टैम्पल बुद्ध है, जिसकी आधार के साथ कुल ऊंचाई 153 मीटर (502 फीट) हैं।

प्रारम्भ में इस परियोजना की कुल लागत भारत सरकार द्वारा लगभग ₹3,000 करोड़ रखी गयी थी,बाद में लार्सन एंड टूब्रो ने अक्टूबर 2014 में सबसे कम ₹2,989 करोड़ की बोली लगाई; जिसमें आकृति, निर्माण तथा रखरखाव शामिल था। निर्माण कार्य का प्रारम्भ 31 अक्टूबर 2013 को प्रारम्भ हुआ।मूर्ति का निर्माण कार्य मध्य अक्टूबर 2018 में समाप्त हो गया था | इसका उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 31 अक्टूबर 2018 को सरदार पटेल के जन्मदिवस के मौके पर किया गया।

2- गिर नेशनल पार्क

गिर वन्यजीव अभयारण्य भारत के गुजरात राज्य में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभयारण्य है, जो एशिया में शेरों का एकमात्र निवास स्थान है। . गिर अभयारण्य 1424 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है, जिसमें से 258 वर्ग किमी एक राष्ट्रीय उद्यान है और 1153 वर्ग किमी एक वन्यजीव आरक्षित है।. इसके अलावा, मितियला वन्यजीव अभयारण्य भी है जो 18.22 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।. ये दो आरक्षित विस्तार गुजरात के भाग में जुनागढ़, अमरेली और गिर सोमनाथ जिलों में स्थित हैं।. सिमादर्शन के लिए यह पार्क और अभयारण्य दुनिया में प्रवासियों के लिए आकर्षण का केंद्र है।. दुनिया में शेरों की संख्या में गिरावट और एशियाई शेरों की रक्षा करने की समस्या से निपटने के लिए, इस विस्तार को शेरों का एकमात्र निवास स्थान घोषित किया गया था।. दुनिया में अफ्रीका के बाद, शेर केवल इस विस्तार में बचे हैं।. गिर वन को 1969 में एक वन्यजीव अभयारण्य घोषित किया गया था और छह साल बाद इसे 140.4 वर्ग किलोमीटर तक विस्तारित किया गया और राष्ट्रीय उद्यान के रूप में स्थापित किया गया।. यह अभयारण्य अब लगभग 258.71 वर्ग किलोमीटर तक विस्तारित हो गया है।. वन्यजीवों को सुरक्षा प्रदान करने के कई प्रयासों के परिणामस्वरूप, इस अभयारण्य में शेरों की संख्या अब बढ़कर 312 हो गई है।

3- सापुतारा

सापुतारा गुजरात राज्य का एक छोटा और खूबसूरत हिल स्टेशन है जो डांग जिले में स्थित है। सापुतारा महाराष्ट्र की सरहद पर सह्याद्रि पर्वतमाला के जंगल मे 1000 मीटर की ऊंचाई पर बसा हुआ है। यह एक पथरीला क्षेत्र है और गर्मी के दिनों में भी यहां का अधिकतम तापमान 30℃ के पास रहता है। यहां आप हरे भरे वन, शीतल झरने और शुकुनदायक ठंडा वातावरण | यदि आपको ट्रैकिंग करना पसंद है तो ये जगह आपको जरूर अच्छी लगेगी क्युकी ये जगह ट्रैकिंग और एडवेंचर्स के लिए काफी प्रसिद्ध है | सपुतारा से 5 किमी की दूरी पर एक गिरा प्रपात नाम का झरना है| इस झरने की अपनी खूबसूरती है। लगभग 5 फीट ऊंचा, यह सीधे नीचे गिरता है। मानसून का पानी अधिक होने पर यह झरना भव्य दिखता है। इसीलिए इसे ‘गुजरात का नियाग्रा’ कहा जाता है।

4- पोरबन्दर

पोरबन्दर भारत के गुजरात राज्य के पोरबन्दर ज़िले में स्थित एक नगर है। यह ज़िले का मुख्यालय भी है। यह महात्मा गाँधी और श्रीकृष्ण के मित्र, सुदामा, का जन्मस्थान है।पोरबन्दर बहुत ही पुराना बंदरगाह हुआ करता था। पोरबन्दर में गुजरात का सबसे अच्छा समुंद्र किनारा है। पोरबंदर गुजरात राज्य के दक्षिण छोर पर अरब सागर से घिरा हुआ है। पोरबंदर जिल्ले का निर्माण जूनागढ़ से हुआ था। पोरबंदर महात्मा गाँधीजी का जन्म स्थान है इसलिए स्वाभाविक रूप से पोरबंदर में उनके जीवन से जुड़े कई स्थान हैं जो आज दर्शनीय स्थलों में बदल चुके हैं। महाभारत काल में अस्मावतीपुर नाम से प्रसिद्ध पोरबंदर को 10वीं शताब्दी में पौरावेलाकुल कहा जाता था और बाद में इसे सुदामापुरी भी कहा गया। पोरबंदर में घूमने के लिए बहुत से स्थान है जैसे सुदामा मंदिर, कीर्ति मंदिर और कुछ अच्छे बीच भी है

5- अहमदाबाद

अहमदाबाद गुजरात का एक प्रगितिशील शहर है और ये शहर गुजरात का सबसे बड़ा शहर है यह संस्कृति में डूबा हुआ शहर है जो की दुनियाभर के लोगो को अपनी और आकर्षित करता है अहमदाबाद में आप साबरमती आश्रम और कंकरिअ झील घूम सकते हो | यदि आप अहमदाबाद जाते हो तो आप वहां के प्रसिद्ध खाखरा, ढोकला और फाफड़ा का मज़ा भी ले सकते हो |