Silver Kada: चांदी का कड़ा तरक्की और धनलाभ के लिए माना जाता है अचूक

28

 तरक्की और धनलाभ के लिए चांदी का कड़ा धारण करने से बहुत लाभ होता है, जानें इसके लाभ।

ज्योतिष शास्त्र में हाथ में कड़ा पहनने के महत्व के बारे में बताया गया है। खासकर चांदी का कड़ा पहनने से कुंडली के कई तरह के दोष दूर होते हैं। इसको धारण करने के बाद से ही इंसान सफलता की सीढ़ी चढ़ने लगता है। 

सिल्वर कड़ा टिप्स:

आपने अक्सर लोगों को हाथ में कड़ा धारण किये हुए देखा होगा। वहीं, कुछ लोग चांदी का कड़ा भी पहनते हैं। बहुत से लोग कड़ा केवल फैशन के के लिए पहनते हैं तो कुछ लोग ज्योतिषी से सलाह लेने के बाद इसे धारण करते हैं। ज्योतिष शास्त्र में चांदी धातु के कड़े को उच्चतम रखा गया है। चांदी से जीवन में चल रही बहुत तरह की समस्याओं से राहत मिलती है। इससे कुंडली के बहुत से दोष भी दूर होते हैं। ऐसे में अगर आपको लगातार असफलता हाथ लग रही है और बनते कार्य बिगड़ते जा रहे हैं तो कड़ा धारण करने से बहुत लाभ मिल सकता है। किसी विशेषज्ञ की सलाह से ही चांदी का कड़ा धारण करना चाहिए, वरना लाभ की जगह नुकसान भी हो सकती है।

चंद्रमा और शुक्र:

चांदी का कड़ा धारण करने से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है और उसको धन संबंधी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता है। कुंडली में चंद्रमा और शुक्र अगर कमजोर स्थिति में हों तो चांदी का कड़ा धारण करना चाहिए। इससे दोनों ही ग्रह काफी मजबूत रहते हैं।

शीतल धातु:

चांदी का कड़ा धारण करने से कुंडली में चंद्रमा से जुड़े जितने भी दोष होते हैं, वे सभी समाप्त हो जाते हैं। इसे धारण करने से इंसान के मन में चलने वाली चंचलता खत्म हो जाती है तथा दिमाग एकाग्र रहता है। चांदी धातु को शीतलता प्रदान करने वाला धातु माना जाता है। इसे धारण करने से मन शांत बना रहता है और गुस्सा नहीं आता है।

निगेटिव एनर्जी (नेगेटिव पॉवर):

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, चांदी धातु का कड़ा धारण करने से निगेटिव एनर्जी से छुटकारा मिलता है तथा सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता रहता है। चांदी धातु का कड़ा धारण करते समय इसकी विधि का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर करना न भूलें।