नए साल के शानदार मौके पर, मात्र 5 हजार रुपए से शुरू करें यह शानदार बिजनेस, होगी बेहतरीन कमाई

13

आज हम आपको एक ऐसे बिजनेस के बारे में बताएँगे जो यकीनन आपको कम लागत में बहुत अधिक मुनाफा देगा।

यदि आप भी उन लोगों में से एक हैं, जो इस नए साल की शुरुआत अपने बिजनेस से करना चाहते हैं तो यकीनन आप भी कम लागत में मुनाफे वाले बिजनेस आइडिया की तलाश कर रहे होंगे। ऐसे में आप कुल्हड़ बनाने का कारोबार शुरू कर सकते हैं, जिसमें निवेश के नाम पर मात्र 5 हजार रुपए खर्च करने पड़ते हैं।
भारत देश में कुल्हड़ वाली चाय से लेकर लस्सी तक सब कुछ काफी फेमस है, क्योंकि मिट्टी से बनी कुल्हड़ में पेय पदार्थों का स्वाद कई गुना बढ़ जाता है। इसके लिए कुल्हड़ वाले बर्तन इस्तेमाल करने से कुम्हार को रोजगार भी प्राप्त हो जाता है, जबकि इससे पर्यावर को नुकसान भी नहीं पहुँचता है।

कुल्हड़ बनाने का व्यवसाय शुरू करें:

कुल्हड़ का कारोबार शुरू करने का आइडिया हर किसी के दिमाग में नहीं आता है, क्योंकि कई लोगों को यह काम काफी मुश्किल लगता है, लेकिन हम आपको बता दें कि आधुनिक मशीन की सहायता से मिट्टी की कुल्हड़ बनाना बहुत जयदा आसान हो गया है। इसकी बाज़ार में मांग तेजी से बढ़ रही है।
दुकान व स्टॉल पर कागज या प्लास्टिक से बने कप में चाय, जूस, लस्सी जैसे पेय पदार्थों को सर्व किया जाता है। ये सभी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होने के साथ-साथ बहुत जयदा गंदगी फैलाते हैं। ऐसे में सरकार ने प्लास्टिक से बने कप पर बैन लगा दिया है, जिसकी वजह से दुकानदार कुल्हड़ का इस्तेमाल कर रहे हैं।
रेलवे स्टेशन तथा बस स्टैंड के पास दुकानों में कुल्हड़ का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है, क्योंकि इन जगहों पर लोगों की संख्या ज्यादा होती है और वह सभी चाय पीना पसंद करते हैं। ऐसे में आप घर बैठे कुल्हड़ बनाने का काम शुरू कर सकते हैं, जिसके लिए आपको अलग से किराए पर जगह लेने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार करेगी मदद:

कुल्हड़ के कारोबार को बढ़ाने के लिए भारत सरकार आम आदमी की मदद कर रही है, जिसके तहत बिजली से चलने वाले चाक (कुल्हड़ बनाने वाली मशीन) प्राप्त करवाई जाती है। इसके अनुसार साल 2020 से 2021 के बीच केंद्र सरकार की तरफ से पूरे देश में 25 हजार इलेक्ट्रिक चाक बांटे गए थे, जिसमें मिट्टी की कुल्हड़ तैयार करना काफी आसान होता है।
भारत सरकार इलेक्ट्रिक चाक पर बनने वाली कुल्हड़ को खरीद भी लेती है। इसकी वजह से इस कारोबार को करने वाले व्यक्ति को कुल्हड़ बेचने के लिए जगह-जगह भटकना नहीं पड़ता है। आप चाहे तो सरकार की मदद लेकर इलेक्ट्रिक चाक खरीद सकते हैं, जिसमें घर बैठे रोजाना कई कुल्हड़ बनाकर तैयार की जाती हैं।

कमाए 30 से 50 हजार रुपए हर महीने:

बाजार में चाय पीने वाली छोटी 100 कुल्हड़ के लिए 50 रुपए मिलते हैं तथा लस्सी पीने वाली 100 कुल्हड़ को 150 रुपए की कीमत पर बेचा जाता है। इस तरह से अगर आप रोजाना अलग-अलग साइज की कुल्हड़ बनाएंगे, तो उसे बाज़ार में अच्छी कीमत पर बेच सकते हैं। कुल्हड़ बनाने में ज्यादा मैटेरियल खर्च नहीं होता है, और बिजली का बिल भी कम आता है।
इसके अतिरिक्त आप मार्केट में अपने ग्राहक भी बाँध सकते हैं, जिन्हें रोजाना कुल्हड़ सप्लाई करनी होती है। एक कुल्हड़ को सिर्फ एक बार इस्तेमाल किया जाता है, जिसके बाद उन्हें तोड़कर दोबारा मिट्टी में बदल दिया जाता है और फिर उस मिट्टी का इस्तेमाल करके नई कुल्हड़ बनाई जाती है। इस तरह आप कुल्हड़ का व्यवसाय करके हर महीने 30 से 50 हजार रुपए की बढ़िया कमाई कर सकते हैं।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर करना न भूलें।