PM Kisan Mandhan Yojana: सरकार दे रही है किसानों को 36 हज़ार रुपये की सौगात, किसानों को बस करने होंगे ये काम

123

PM Kisan Mandhan Yojana: कृषि, किसान और भारत यह सभी तत्व एक दूसरे को पूरा करते हैं। जब भी भारत के बारे में बतौर राष्ट्र कोई परिभाषा गढ़ी जाती है तो उसमें यहाँ के किसान एक अहम हिस्से के तौर पर मौजूद होते हैं। हम भारत को किसानों या कृषि से अलग करके नहीं सोच सकते। परंतु कृषि, किसानों की इतनी अहमियत होने के बावजूद भी भारत के किसानों की आर्थिक स्थिति बदत्तर होती जा रही है।

इसका अंदाज़ा आप इसी बात से लगा सकते है कि हर साल आर्थिक नुकसान के कारण बड़ी संख्या में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो जाते हैं। यहाँ तक की कितनी ही किसान आत्महत्याओं का कारण, किसान की आर्थिक स्थिति का कमज़ोर होना या पैसों की तंगी ही होता है। पैसों के अभाव में इस देश का किसान अनाज उपजाने वाला हो कर भी उस अनाज के सेवन से ही वंचित रह जाता है।

किसानों की ऐसे दशा को देखते हुए केंद्र सरकार ने किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए कई अहम योजनाओं की शुरुआत की है। इन्हीं योजनाओं में से एक है पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana)

क्या है इस योजना का आधार (PM Kisan Mandhan Yojana)

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana) के अंतर्गत किसानों को हर साल 36 हज़ार रुपए दिए जाते हैं। हालांकि यह रकम किसानों को पेंशन के रूप में सरकार के द्वारा दी जाती है। हर महीने किसानों को 3 हज़ार रुपये मिलते हैं।

किसान कैसे उठा सकते है इस योजना का लाभ

पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana) के लिए किसानों को बहुत ही मामूली-सी राशि हर साल जमा करानी होती है। इस योजना के अंतर्गत 18 से 40 वर्ष की आयु के बीच का कोई भी किसान इस योजना का लाभ उठा सकता है। इस योजना के अनुसार किसान की उम्र के हिसाब से उसके द्वारा हर महीने कितनी राशि जमा की जाएगी यह तय किया जाता है। यह राशि 55 रुपये से लेकर 200 रुपये महीने के बीच में होती है। बता दें कि इस पेंशन फण्ड की देखरेख भारतीय जीवन बीमा निगम के द्वारा की जाती है।

उम्र के मुताबिक कितनी राशि करनी होती है जमा

पीएम किसान मानधन योजना (PM Kisan Mandhan Yojana) के अनुसार जिस किसान की उम्र 18 साल से लेकर 29 साल के बीच में है, उसे 55 रुपये से लेकर 109 रुपये के बीच में राशि जमा करनी होती है। 30 साल से 39 साल की उम्र वाले किसानों को हर महीने 110 रुपये से लेकर 199 रुपये के बीच में राशि जमा करनी होती है।

इसके अतिरिक्त, जो किसान इस योजना को 40 साल की उम्र में लेते हैं, उन्हें हर महीने 200 रुपये तक की राशि जमा करनी होती है। इन किस्तों को जमा करने के बाद जब किसान की उम्र 60 साल की हो जाएगी, तब सरकार की ओर से हर साल 36 हज़ार रुपये की राशि उस किसान को पेंशन के रूप में मिलेंगे। हर महीने तीन (3) हज़ार रुपए की राशि किसान को प्राप्त होगी।